काव्य संग्रह ‘मन की लहरें’ का हुआ विमोचन व चर्चा

0
196
चंडीगढ़
8 सितंबर 2019
दिव्या आज़ाद
पंजाबी व हिंदी के कवि गुरदर्शन सिंह के नवप्रकाशित काव्य संग्रह ‘मन की बातें’ का भव्य समारोह में विमोचन व चर्चा हुई। कार्यक्रम का आयोजन साहित्य विज्ञान केंद्र ने शिवालिक पब्लिक स्कूल मोहाली के सभागार मंव किया। अध्यक्ष मडल में वयोवृद्ध साहित्यकार गुरचरण सिंह बोपाराय, कविवर जैन विज और कवि बलवंत तक्षक शामिल थे। कार्यक्रम का संचालन सेवी रयात ने किया। सरस्वती वंदना सोमेश ने प्रस्तुत किया।
पुस्तक पर बोलते हुए कविवर जैन विज ने कहा कि कवि ने समाज और जिंदगी को खुली आंख से देखा है। कविताओं में घर-परिवार के साथ व्यवस्था की विसंगतियों पर तंज कसा गया है।
कवि व पत्रकार बलवंत तक्षक ने पुस्तक पर बोलते हुए कहा कि इन की कविताएं आधुनिकता के रंग में रंगी हुई हैं। संवेदनशील कवि ने समाज के प्रत्येक पात्र को छुआ है।
पुस्तक पर बोलते हुए गुरदर्शन भावी ने कहा उन्हे आस-पास की घटनाएं प्रभावित करती रहती हैं। उनको ही शब्दों में पिरोकर प्रस्तुत किया है। उन्होने अपनी कुछ कविताओं का पाठ भी किया।
श्रीमती किरण बेदी औऱ परमजीत परम ने भी विचार रखे। सुमन, दर्शन, ऊषा शर्मा, कल्पना गुप्ता, बलविंदर कौर ने कविताओं का पाठ किया। कार्यक्रम में भारी संख्या में साहित्यकार उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.