चण्डीगढ़ सलाहकार समिति में प्रतिनिधित्व न मिलने पर हिंदू संगठनों में भारी रोष

0
108

चण्डीगढ़

9 अगस्त 2019

दिव्या आज़ाद

पिछले दिनों गठित की गई चण्डीगढ़ सलाहकार समिति में विभिन्न संगठनों को प्रतिनिधित्व दिया गया पंरतु कुछ संगठन छूट गए हैं जिनमें प्रमुखत: हिंदू संगठन व पूर्वांचल के संगठन रह गए हैं। इनको लेकर भारी रोष पनप रहा है।  श्री चैतन्य गौड़ीय मठ मंदिर, से, 20  के प्रवक्ता जय प्रकाश गुप्ता, देवालय पूजक परिषद, चंडीगढ़ के अध्यक्ष पं. ईश्वर चंद्र शास्त्री, धर्म जागरण समन्वय विभाग, चण्डीगढ़ के संयोजक नरेंद्र पाण्डे, पूर्वांचल विकास मंच, ट्राइसिटी, चंडीगढ़ के अध्यक्ष व शिव मंदिर प्रबंधक कमेटी, कालोनी नं. चार के अध्यक्ष शशिशंकर तिवारी, सुखमय सेवा एंड चैरीटेबल समिति के संस्थापक वरिंदर भटारा व प्रधान आचार्य विशाल एवं धर्माचार्य गिरिवर शर्मा आदि ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि इस सलाहकार समिति में सिख, मुस्लिम व ईसाई समुदायों को पर्याप्त प्रतिनिधित्व दिया गया है परंतु हिंदुओं को बिल्कुल नकार दिया गया है जबकि चंडीगढ़ में हिंदुओं की जनसंख्या में लगभग 85 प्रतिशत है। इन सभी ने कहा कि इस समय देश में राष्ट्रवादी व हिंदूवादी सरकार सत्ता में है व साथ ही चंडीगढ़ में भी हिंदुत्ववादियों  का ही प्रभुत्व है। इस सबके बावजूद हिन्दुओं की उपेक्षा बिल्कुल नागवार है। इन सभी ने एक स्वर में मांग की है कि जल्द से जल्द इस गलती को सुधारा जाए नहीं तो इन्हें आंदोलन छेडऩे पर मजबूर होना पड़ेगा। सभी संगठन जल्दी ही एकजुट होकर बैठक करेंगे व अगली रणनीति तैयार करेंगे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.