लघु भारती उद्योग, चंडीगढ़ ने आयोजित किया उद्यमी सम्मेलन, दिया व्यापारियों के हक में किये गए कार्यों का विवरण

0
493

चंडीगढ़

6 अप्रैल 2024

दिव्या आज़ाद

लघु भारती उद्योग, चंडीगढ़ इकाई द्वारा उद्यमी सम्मेलन का आयोजन एक निजी होटल में किया गया, जिसमें लघु भारती उद्योग, चंडीगढ़ इकाई द्वारा बीते वर्ष किये गए कार्यों के विवरण को पीपीटी के माध्यम से दिखाया गया। यह आयोजन लघु भारती उद्योग, चंडीगढ़ इकाई के अध्यक्ष अवि भसीन के नेतृत्व में आयोजित किया गया था। सम्मेलन में जॉइंट फोरम ऑफ चंडीगढ़ इंडस्ट्रीज, चंडीगढ़ के बैनर तले विभिन्न व्यापारियों की एसोसिएशन के अध्यक्ष भी उपस्थित थे।

सम्मेलन में मुख्यातिथि के तौर पर लघु भारती उद्योग के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अरविंद धूमल ने शिरकत की। जिन्हें लघु भारती उद्योग, चंडीगढ़ इकाई के अध्यक्ष अवि भसीन और पूर्व अध्यक्ष युद्धवीर कौड़ा द्वारा फूलों के गुलदस्ते व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जॉइंट फोरम ऑफ चंडीगढ़ इंडस्ट्रीज, चंडीगढ़ के बैनर तले सम्मेलन में पहुंचे विभिन्न व्यापारी एसोसिएशन और संगठनों के अध्यक्षों का स्वागत मनीष निगम व सुनील खेत्रपाल द्वारा किया गया। सम्मेलन का शुभारंभ मुख्यातिथि द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।

लघु भारती उद्योग, चंडीगढ़ द्वारा बीते वर्ष किये गए कार्यों को संदीप मोंगिया व रितेश अरोड़ा द्वारा सम्मेलन में पीपीटी के माध्यम से बखूबी प्रस्तुत किया।

इस सम्मेलन में जॉइंट फोरम ऑफ चंडीगढ़ ऑफ इंडस्ट्रीज, चंडीगढ़ के विभिन्न संगठनों के अध्यक्षों ने उद्योग में आ रही समस्याओं पर चर्चा की। अवि भसीन ने उपस्थित व्यापारियों को बताया कि व्यापारियों की उद्योग से जुड़ी कई समस्याओं को लघु भारती द्वारा सुलझाया गया है जबकि कुछ अन्य समस्याएं अभी शेष हैं, जिनका समाधान जल्द ही किया जाएगा। उन्होंने कहा कि व्यापारियों की समस्याओं का समाधान करने की प्रतिबद्धता अभी कायम है और भविष्य में भी सदैव प्रयासरत रहेगी।

लघु भारती उद्योग के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अरविंद धूमल ने अपने संबोधन में कहा कि चंडीगढ़ इकाई द्वारा व्यापारियों की समस्याओं को उनसे अवगत करवाया गया था। उन्होंने विभिन्न व्यापारी एसोसिएशन और संगठनों के अध्यक्षों को आश्वस्त किया कि चंडीगढ़ उद्योग से जुड़ी समस्याओं को केन्द्र सरकार के समक्ष दोबारा रखा गया है जिसका समाधान जल्द कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.