क्या पेड पार्किंग में भी यू-टर्न लेगी बीजेपी: युवा दल

0
103

चंडीगढ़

15 नवंबर 2021

दिव्या आज़ाद

युवा दल ने पेड पार्किंग के मसले पर सत्ता पक्ष बीजेपी को घेरा है। युवा दल संयोजक सुनील यादव ने सवाल किया है कि अब कथित स्मार्ट पैकिंग की सुविधएं कहा गयी ? बीजेपी पार्षदों और संसाद ने दो वर्ष पहले स्मार्ट पार्किंग के लुभावने सपने दिखा कर निगम सदन बैठक  में एजेंडा पारित कराया था। अब हाल यह है कि शहर में जोन 1 और जोन 2 में विभाजित पेड पार्किंग का संचालन कर रही कंपनियां ब्लैक लिस्ट होने की कगार पर है। उन्होंने आगे कहा कि शहरवासियों की पार्किंग सुविधा कोई मिली नही। बल्कि 20 प्रतिशत के हिसाब से पैसे भी चार्ज किए जाने लगे। शहर में स्मार्ट पार्किंग का कांसेप्ट साल 2016-17 से शुरू हुआ था। साल 2017 जून में स्मार्ट सिटी के तमाम प्रोजेक्ट्स के बीच स्मार्ट पार्किंग की आधिकारिक लॉचिंग की गई थी।

स्मार्ट पैकिंग को लेकर शहरवासियों के सामने बड़े बड़े दावे किए गए। यहां तक कि मोबाइल से स्मार्ट पार्किंग एप की भी शुरुआत की गई। जुलाई 2018 और उसके बाद लोकसभा चुनाव से ठीक पहले फरवरी 2019 में स्मार्ट पार्किंग कंपनी का दो बार कांट्रैक्ट कैंसिल किया गया। पहली बार कंपनी ने हाई कोर्ट से स्टे लेकर पार्किंग का कब्जा वापस ले लिया था। इन दो वर्षों में शहरवासियों से स्मार्ट पार्किंग के नाम पर बढ़े हुए रेट और घंटों के हिसाब से पैसा वसूल किया गया। उनका सवाल है की क्या बीजेपी पानी के वाटर टेरिफ की तर्ज  पर क्या पेड पार्किंग में भी क्या भूल चुक सुधार की दिशा में यु-टर्न लेगी ? उनका कहना है वाटर टैरिफ में राहत भी आंख में धूल झोंकने के समान रहा। 31 मार्च के बाद तो फिर बड़े हुए रेट के हिसाब से चार्ज किए जाएंगे। कुल मिला कर पेड पार्किंग और वाटर टैरिफ में सत्ता पक्ष का दोहरा चेहरा सामने आया है।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.