अज्ञात पर केस दर्ज कर भाजपा नेताओ को क्यों बचा रही चंडीगढ़ पुलिस: युवा कांग्रेस

0
741
World Wisdom News

चंडीगढ़

5 नवंबर 2021

दिव्या आज़ाद

चंडीगढ़ में प्रशासन के आदेशों के खिलाफ पटाखे जलाने पर मंगलवार को 10 अज्ञात के खिलाफ 10 एफआईआर दर्ज हुई है। और  बुधवार को 11 केस दर्ज हुए। पुलिस किसी की शिनाख्त नहीं कर पाई है। सभी एफआईआर में  एक ही लाइन लिखी गयी गश्त के दौरान और पीसीआर में कॉल आने पर मौके पर पहुंचे तो आरोपी फरार हो गए।

वहीँ चंडीगढ़ युवा कांग्रेस के नेता सुनील यादव और विनायक बंगिआ ने इस कार्यवाही पर सवाल खड़े किये है युवा नेताओ के अनुसार समूचे शहर में प्रशासन के आदेश के उल्लंघन हुआ आदेश सिर्फ कागजों तक ही जारी रहे। शहर के अधिकतर सेक्टरों में खूब पटाखे बजे जबकि कई जगह पुलिस कर्मचारी भी पहुंचे लेकिन वह भी लोगों को रोक नहीं सके। यह तक भाजपा युवा मोर्चे के नेताओ ने पटाके चलते हुए की वीडियो तक सोशल मीडिया पर अपलोड कर प्रशासन के लिए यह तक लिख दिया की जो रोक सके तो रोक ले फिर भी खानापूर्ति के लिए पुलिस विभाग द्वारा सिर्फ अज्ञात पर एफआईआर दर्ज करना समझ से बाहर है ये भी जाँच का विषय है की प्रशासन द्वारा जब दिवाली पर शहर में पटाखे बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया था तो किसकी मिलीभगत से ये पटाखे बेचे गए और पुलिस क्यों मूकदर्शक बनी रही।

हालांकि शहर में प्रशासन के आदेश का पालन कराने के लिए 600 से अधिक पुलिस जवान तैनात किए थे मगर कहीं भी उनका कोई डर क्यों नजर नहीं आया। लोगों ने जमकर आतिशबाजी की। लोगों की ओर से चलाए गए पटाखों के धुएं की वजह से  चंडीगढ़ का एयर क्वालिटी इंडेक्स भी प्रभावित हुआ  

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.