करोड़ों की ठगी मारने वाले बिल्डर एमडी के खिलाफ पीड़ितों ने सोसाइटी के सामने की जम कर नारेबाजी, कहा पैसे लेने के बाद बिल्डर ने न तो फ्लैट दिए और न ही पैसे कर रहा वापस

0
259

मोहाली

1 अक्तूबर 2021

दिव्या आज़ाद

जीरकपुर स्थित जीबीपी का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि मोहाली के सैक्टर-91 स्थित समरब होमस प्राईवेट लिमिटेड के बिल्डर / एमडी द्वारा करोड़ों रूपए फ्लैट बेचने के नाम पर ठगी मारने का एक नया मामला उस समय आया, जब पीडि़तों की ओर से शुक्रवार को सोसाइटी के सामने जम कर नारेबाजी की गई और पत्रकारों को एमडी द्वारा ठगी की जानकारी दी गई। हालांकि पीडि़तों की ओर से उक्त मामले की शिकायत पंजाब के पूर्व डीजीपी को दी गई थी जो कि मार्क होने के बाद मोहाली पहुंची। लेकिन अभी तक पीडि़तों को कोई इंसाफ नहीं मिला जिसके चलते उनको अब यह रास्ता अख्तियार करना पड़ रहा है।


शुक्रवार को मोहाली के सैक्टर-91 में स्थित उक्त सोसाइटी के बाहर पीडि़त दर्शन सिंह निवासी मोहाली,जसवीर सिंह और खरड़ निवासी नरेश कुमार ने बताया कि उन्होंने सोसाइटी के एमडी रहे सतिंदरपाल सिंह को लगभग दो करोड़ रूपए फ््लैट बुक करने के लिए दिए थे, जो कि यह रकम उन्होंने साल 2०2० में दी थी, लेकिन उसके बाद न तो उनको फ्लैट मिले और न ही उनके पैसे वापस हो रहे हैं। पीडि़तों ने बताया कि मामले की शिकायत डीजीपी से करने के बाद भी उनको इंसाफ नहीं मिला और वर्तमान में सतिंदरपाल सिंह फरार चल रहा है और सोसाइटी में अब कोई नहीं मिलता है। उन्होंने बताया कि उनकी मामले की शिकायत एसएसपी मोहाली को डीजीपी से मार्क हो कर आई थी, लेकिन उनकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि वह मीडिया और मोहाली पुलिस प्रशासन से अपील करते हैं कि उनको इंसाफ दिलाया जाए, क्योंकि कोरोना काल में उन्होंने अपनी मेहतन की कमाई को अपने आशियाने के लिए लगाया थ। लेकिन बदकिश्मती से आज उनको रोष प्रर्दशन और नारेबाजी करने का रास्ता अख्तियार करना पड़ृ रहा है।

क्या कहना है सोसाइटी जमीन मालिक प्रेम गांधी का ?


उपरोक्त ठगी के मामले में सैक्टर-91 स्थित सोसाइटी के बारे में जानकारी देते हुए जमीन मालिक प्रेम गांधी ने कहा कि उनको पैसों से कोई लेना-देना नहीं है। बल्कि उनहोंने तो सतिंदरपाल सिंह को एक ठेकेदार के तौर पर सोसाइटी का निमार्ण करने के लिए रखा था। गांधी ने कहा कि सतिंदर पाल सिंह स्ंवय फरार है, लेकिन सतिंदर पाल सिंह से उनको कोई लेना-देना नहीं है। वहीं दूसरी ओर जब सतिंदर पाल सिंह के फोन नंबर पर संपर्क किया गया तो उनको फोन बंद आ रहा था और संपर्क नहीं हो पाया।

क्या कहना है एसपी हरबीर सिंह अटवाल का ?


सोसाइटी और पीडि़तों के मामले में मोहाली के एसपी इंडस्ट्रीयल सिकोरिटी हरबीर सिंह अटवाल ने कहा कि उनके पास सतिंदरपाल सिंह आया था और उसका कहना था कि उसने केसी गांधी से 5 करोड़ रूपए लेना है और बदले में 2:45 करोड़ देनदारी है। उन्होंने बताया कि सतिंदरपाल सिंह ने कोई लोन लेने और पीडि़तों के पैसे देने की बात के लिए एक स$फ्ताह का समय मांगा है। लेकिन यदि वह एक सप्ताह के भीतर पैसे वापस नहीं करता था तो उसके खिलाफ बनती कार्रवाई शुरू की जाएगी।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.