न्यू कांग्रेस पार्टी [NCP] का दिल्ली जंतर – मंतर पर पहलवानो को समर्थ

0
527

चंडीगढ़

26 मई 2023

दिव्या आज़ाद

देश की राजधानी दिल्ली के जंतर मंतर पर जारी पहलवानों का धरना अब तेजी से एक आंदोलन में बदलता नजर आने लगा है।हाल ही में न्यू कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सुप्रीमो एडवोकेट विवेक हंस गरचा ने  इस बीच जंतर-मंतर आ रहे लोगों से अपील करते हुए पहलवान जीतेन्द्र रेसलर व साक्षी मलिक ने  कहा कि धरने को लोगों का तेजी से समर्थन मिल रहा है। मैं सभी से कहना चाहता हूं कि धरने को शांतिपूर्वक ही करें और कहीं पर भी पुलिस रोकती है तो वहीं पर बैठ जाएं। जंतर मंतर पर बैठी लड़कियों और बच्चियों के लिए सब साथ खड़े हैं।

बीते दो हफ्तों से भारतीय पहलवानों का WFI के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न को लेकर दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन लगातार जारी है। दिल्ली पुलिस से भारतीय पहलवानों के झड़प के बाद न केवल भारतीय किसान यूनियन व न्यू कांग्रेस पार्टी [एनसीपी] ने बैठक कर इस आंदोलन को गति देने की रणनीति बनाई है, बल्कि आज हरियाणा राजस्थान व दिल्ली से सटे दूसरे राज्यों से भारी संख्या में खाप पंचायत के नेता और किसान संगठन से जुड़े किसान पहुंच रहे हैं। इसको देखते हुए दिल्ली सीमा से लेकर जंतर-मंतर तक सुरक्षा व्यवस्था और सुरक्षाबलों की तैनाती को बढ़ा दिया गया है। साथ ही बड़ी गाड़ियों की सघन चेकिंग के बाद ही उन्हें दिल्ली सीमा में प्रवेश करने की इजाजत दी जा रही है।

भारतीय कुशती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह की गिरफ्तारी को लेकर दिल्ली के जंतर-मंतर पर पहलवानों का धरना प्रदर्शन लगातार बना हुआ है। इस प्रदर्शन को कई राजनीतिक दलों का समर्थन मिला है। आज हाल ही में न्यू कांग्रेस पार्टी [NCP] सुप्रीमो एडवोकेट विवेक हंस गरचा ने भी आंदोलन को समर्थन का ऐलान किया और जंतर – मंतर पर भाषण देकर देश की जनता को सम्बोधित किया। वहीं अब एक-एक कर के नए किरदारों की एंट्री इस प्रदर्शन में हो रही है।

न्यू कांग्रेस पार्टी [NCP] सुप्रीमो एडवोकेट विवेक हंस गरचा ने भी दी सरकार को खुली चुनौती

एडवोकेट विवेक हंस गरचा व खाप पंचायतों के सदस्य अब इस प्रदर्शन में शामिल हो गए हैं।  इस महापंचायत में पंजाब के किसान संगठन भी शामिल हुए। इन्होंने बृजभूषण सिंह के खिलाफ एक सुर में कार्रवाई की मांग की और सरकार को इसके के लिए 30 मई तक अलीमेटम दिया। उन्होंने कहा अगर 30 तक कार्रवाई नहीं हुई तो उसके बाद बड़ा फैसला लिया जाएगा।

चार राष्ट्रीय महिला संगठन…

वहीं, पहलवानों के इस प्रदर्शन को चार राष्ट्रीय महिला संगठनों ने समर्थन देते हुए संयुक्त रूप से देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करने का आह्वान किया है। अखिल भारतीय लोकतांत्रिक महिला संघ, अखिल भारतीय अग्रगामी महिला संगठन, भारतीय महिला राष्ट्रीय संघ, अखिल भारतीय महिला सांस्कृतिक संगठन ने पहलवानों के साथ अपनी एकजुटता व्यक्त की है।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.