ऑटो रिक्शा वालों ने ट्रैफिक पुलिस पर लगाया धक्केशाही का आरोप

जॉइंट एक्शन कमेटी  जबरदस्त प्रदर्शन की तैयारी में

0
1392

चंडीगढ़

3 मार्च 2017

दिव्या आज़ाद 

चंडीगढ़, मोहाली, पंचकूला ऑटो रिक्शा ज्वाइंट एक्शन कमेटी की बैठक सेक्टर 21 के पार्क में चेयरमैन कमलाकान्त द्विवेदी की अध्यक्षता में हुई जिसमेंकमेटी के पदाधिकारी एवं कार्यकारिणी के सदस्यों ने मिलकर ट्राइसिटी के ऑटो चालकों से दिन इतवार समय दस बजे सेक्टर 25 रैली ग्राउंड में 5 मार्च को ट्रैफिक पुलिसद्वारा हो रहे धक्के से चालान के विरोध में एकजुट होने की अपील की। कमलाकान्त ने चंडीगढ़ प्रशासन व पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि आरएलऐ ऑटोरिक्शा, जो कि कमर्शिअल वाहन होता है, का लाईसेंस एलएमवी के तौर पर जारी करता है जबकि इनके लिए लाईसेंस एलटीवी के तौर पर जारी किया जाना चाहिए।

ऐसे लाईसेंस को न ही ट्रैफिक पुलिस मानती है और न ही इस पर इंश्योरंस क्लेम मिलता है। वहीं पर एसटीए विभाग इन लाईसेंस को जायज़ ठहरता है। प्रशासन के दोविभागों आरएलऐ व एसटीए में आपसी तालमेल की कमी का खामियाजा ऑटोरिक्शा चालक भुगत रहे हैं।

इसके अलावा डीजल के ऑटो रिक्शा भी बंद करने का अभियान चला हुआ है जबकि चंडीगढ़ प्रशासन डीजल के सरकारी एवं प्राइवेट कमर्शियल वाहन खुद चला औरचलवा रहे हैं और भेदभाव की नीति से ऑटो चालकों को एलपीजी ऑटो देकर कर्जे में डुबाकर उबेर-ओला डीजल टैक्सियां चलवाकर इनकी रोजी रोटी पर संकट खड़ा करदिया। एसटीए ट्रैफिक चालान का दबाव बनाकर इन्हें भगाने का प्रयास कर रही है और ऑटोरिक्षावालों से जमकर रिश्वतखोरी भी कर रही है

दस्तावेज कम्पलीट होने के बावजूद धक्के से चालान कर रही है वहीं पर सामूहिक ऑटो चालक एवं कमेटी पदाधिकारियों ने मिलकर निर्णय लिया है कि एसटीए ट्रैफिकचालान करना दबाव बनवा न बंद किया तो हम एसटीए कम ट्रैफिक के कार्यालय का घेराव करेंगे और अपराध व हादसा हुआ तो उसका जिम्मेदार चंडीगढ़ प्रशासन होगा।यही कमेटी अध्यक्ष सुनील कुमार गुप्ता, प्रधान मदन सिंह वाचस्पति पाण्डे, रिषी शर्मा, अजय चौबे, राजकुमार, टिंकू, सुरेंद्र लम्बू, नगेंद्र सिंह नागराज, पप्पू शुक्लाप्रधान तीरथराम शुक्ला, प्रधान त्रिलोकचंद, वरून अशोक हंसराज प्रधान सोमनाथ प्रधान, नूरमोहम्मद, मनोज कुमार शुक्ला, प्रदीप शर्मा, राजेश कुमार और अब्दुल नेकहा कि आटो चालकों के साथ शोषण और अन्याय को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाएंगे और शहर में तांडव मचा देंगे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.