गरीब बच्चों के दाखिले के लिए पहले की तरह जन्म प्रमाणपत्र की जगह शपथपत्र को माना जाए : तिवारी

0
371
World Wisdom News

चण्डीगढ़

22 अप्रैल 2022

दिव्या आज़ाद

आजकल शहर के सरकारी स्कूलों में दाखिले के लिए गरीबों के बच्चों को जन्म प्रमाणपत्र ना होने की वजह से से दर-दर भटकना पड़ रहा है। पूर्वांचल विकास महासंघ, ट्राइसिटी, चण्डीगढ़ के अध्यक्ष शशिशंकर तिवारी ने नगर प्रशासन के अधिकारियों से मांग की है कि गरीबों की बच्चों को शिक्षा की अधिकार से वंचित ना किया जाए। वैसे भी सरकार बच्चों की पढाई सुनिश्चित करने की लिए अनेक कदम उठा रही है। तिवारी ने कहा कि पहले जो बच्चे घर में ही पैदा होते थे, उन्हें शपथपत्र के आधार पर ही दाखिला मिल जाया करता था, परन्तु अब जन्म प्रमाण पत्र आवश्यक कर दिया गया है जिस कारण इन बच्चों के माता-पिता को जगह-जगह भटकना पड़ रहा है। उन्होंने तत्काल इस और ध्यान देने के मांग की है ताकि कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न रह जाए।


तिवारी ने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि इन हज़ारों बच्चो की और ध्यान नहीं दिया गया तो वे शिक्षा अधिकारी के कार्यालय के बाहर इन बच्चों के साथ धरना देंगे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.