तीन काले कानूनों के विरोध में युवा कांग्रेस की गवर्नर हाउस के समक्ष प्रदर्शन की कोशिश, 8 प्रदर्शनकरी हिरासत में

0
172

चंडीगढ़

26 मई 2021

दिव्या आज़ाद

बुधवार को किसान आंदोलन के छह महीने पूरे होने पर काले कानूनों के विरोध में पंजाब के गवर्नर वी पी सिंह बदनोर के घर के समक्ष प्रदर्शन करने जा पहुंचे चंडीगढ़ युवा कांग्रेस के नेताओ ने काले झंडे दिखा के तीन काले कानून रद्द करने और आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के लिए न्याय की मांग की इस दौरान गवर्नर हाउस के नजदीक पहुंचने की कोशिश के दौरान युवा नेताओ की चंडीगढ़ पुलिस के साथ  धक्का-मुक्की में 2 नेताओ को हलकी चोटे भी लगी और पुलिस द्वारा तुरंत एक्शन लेते हुए युवा कांग्रेस नेता लव कुमार,दीपक लुभाना महासचिव केवल सिंह, विनायक बंगीय, सुखदेव सिंह रामगढ़िया, जिला-II अध्यक्ष धीरज गुप्ता, वार्ड न: 10 अध्यक्ष शानू खान को हिरासत में लेते हुए सेक्टर 3 पुलिस थाने ले जाया गया

इस मौके पर युवा नेता लव कुमार का कहना है केंद्र सरकार अपनी जिद पर अड़ी है. किसानों पर काला कानून लागू करने का काम पर रही है, जिसे देश का किसान किसी भी हाल में स्वीकार नहीं करेगा. किसानों की मांग मनवाने के लिए सरकार पर दबाव बनाना जरूरी है। छह महीने से किसान दिल्ली की सीमाओं पर इकट्ठा हैं और ‘काले कानूनों’’ को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।


महासचिव केवल सिंह ने कहाँ किसान किसी भी सूरत में पीछे हटने वाले नहीं हैं. उन्होंने कहा जब तक ये काले कानून सरकार वापस नहीं लेती तब तक आन्दोलन जारी रहेगा. उन्होंने कहा सरकार हिटलरशाही रवैया अपना रही है. बीते हफ्ते हिसार में जो किसानों पर आंसू गैस और पानी की बौछार की गई है उसे किसान भूलने वाले नहीं हैं  इस दौरान युवा नेता साहिल दुबे, सुनील यादव, बलकार सिंह विक्टर, संदीप कुमार, जीशान खान, अमित कुमार, जसप्रीत सिंह, विकास आदि युवा साथी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.