ट्राईसिटी ने देश को 1000 बैंकर्स दिए

0
646

चंडीगढ़

1 अप्रैल 2017

दिव्या आज़ाद

बैंक पीओ,  क्लर्क और स्पेशलिस्ट ऑफिसर परीक्षाओं के परिणाम आज घोषित किए गए। इन परीक्षाओं का संचालन आईबीपीएस द्वारा किया गया था। आईबीपीएस, पुणे स्थित भर्ती संस्थान है जो कि एसबीआई के अलावा बैंक ऑफ बड़ौदा, पीएनबी,केनरा बैंक आदि 21 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लिए प्रोबेशनरी ऑफिसर (पीओ) और क्लर्क पदों पर चयन के लिए परीक्षाओं का संचालन करता है। इस साल 39.90प्रतिशत अंक हासिल करने वाला उम्मीदवार भी प्रोबेशनरी ऑफिसर बन गया। कुल 8,822 स्टूडेंट्स ने पूरे भारत से प्रोबेशनरी अधिकारी के लिए पात्रता हासिल की है और 19,243 युवाओं ने पूरे भारत में क्लर्क के तौर पर पात्रता हासिल की है। बीते साल फाइनल चयन के लिए कट-ऑफ 49.90 प्रतिशत थी जो कि इस बार कम होकर 39.90 प्रतिशत तक रह गई है।

सेक्टर 15 स्थित एएए-ब्राइट एकेडमी के डायरेक्टर आर.के.महाजन ने बताया कि इस साल भी ट्राईसिटी के स्टूडेंट्स ने शानदार प्रदर्शन किया है। ट्राईसिटी से 18000से अधिक उम्मीदवारों ने बैंक परीक्षाएं दी थी और इनमें से 1027 से अधिक स्टूडेंट्स ने बैंक पीओ, क्लर्क और स्पेशलिस्ट ऑफिसर परीक्षाओं के लिए पात्रता हासिल की है।’’ आर.के.महाजन ने बताया कि इन परीक्षाओं में सफलता हासिल करने वाले कुल स्टूडेंट्स में से 440 स्टूडेंट्स एएए ब्राइट एकेडमी के हैं।

बैंकिंग क्षेत्र में बेहतरीन भविष्य के चलते काफी अधिक संख्या में स्टूडेंट्स इस की तरफ आकर्षित होते हैं और इस साल पीओ और क्लर्क परीक्षाओं के लिए 20 लाख से अधिक स्टूडेंट्स ने आवेदन किया था।

बैंक क्लर्क परीक्षाओं के लिए कोई इंटरव्यू नहीं

आर.के.महाजन ने बताया कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार 2015 से बैंक क्लर्क परीक्षाओं के लिए कोई इंटरव्यू नहीं होती है।इसलिए इस साल बैंक क्लर्क परीक्षाओं में आखिरी चयन सिर्फ लिखित परीक्षा के आधार पर ही किया गया है।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.