स्पोर्ट्स इंजरी करियर का अंत नहीं, उम्मीद मत छोड़ें खिलाड़ी

0
411

चंडीगढ़

31 मार्च 2023

दिव्या आज़ाद

चंडीगढ़। स्पोर्ट्स को इंजरी हो जाती है तो कई खिलाड़ी खेलने की उम्मीद ही छोड़ देते हैं। वास्तव में उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए। भारत का मेडिकल सिस्टम अब काफी एडवांस हो चुका है। अब तो इसका इलाज रोबोटिक्स सहित लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से किया जाने लगा है। खिलाड़ी दोबारा खेल सकते हैं। यह कहना है डॉ. रवि गुप्ता का। उन्होंने यह बात द सुपर क्लास शो के दौरान
वर्ल्डस यंगेस्ट होस्ट इप्सिता से बातचीत के दौरान कही।

 इस दौरान चंडीगढ़  मेडिकल कालेज  32 के पूर्व मेडिकल सुपरिंडेंटेंट डॉ. रवि गुप्ताडॉ. रवि गुप्ता ने कई रोचक बातें बताईं।
सतवीर प्रोडक्शन सेक्टर-8 स्टूडियो में इस शो के दौरान उन्होंने कहा कि सेलिब्रेटी समाज का ताज होते हैं, उन्होंने कई सेलिब्रेटी का इलाज किया और वह ठीक भी हो गए। डॉ. रवि गुप्ता ने बताया कि उन्होंने वर्ष 1997 के दौरान प्रसिद्ध पाकिस्तानी क्रिकेटर अब्दुल रज़्ज़ाक़ का आपरेशन किया। इसके साथ ही प्रसिद्ध कमेडियन ख़याली का इलाज किया था। इन दोनों ने ही डॉक्टर रवि गुप्ता को बधाई भी दी।
उन्होंने शो के दौरान बताया कि एक बार एक ऐसी मरीज आईं कि उनके आपरेशन के लिए कई बड़े सर्जन तक ने उनको मना कर दिया था। उस पेशेंट का उन्होंने आपरेशन किया और वह एकदम ठीक हो गई। डॉक्टर रवि गुप्ता ने बताया कि कई बच्चे नीट की परीक्षा के लिए काफी ज्यादा स्ट्रेस लेते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं करना चाहिए। किसी भी परीक्षा में मेहनत करनी चाहिए और पूरी ऊर्जा के साथ परीक्षा देनी चाहिए।
इस शो के दौरान डॉ. रवि गुप्ता की पत्नी और डिपार्टमेंट आफ
माइक्रोबायोलाजी की प्रमुख डॉ. वर्षा गुप्ता ने बताया कि उन्होंने कोविड के दौरान काफी वर्क किया। उन्होंने बताया कि अब माइक्रोबायोलाजी के क्षेत्र में काफी ज्यादा रिसर्च होने लगी हैं। अब काफी विद्यार्थी भी इस डिपार्टमेंट में प्रवेश चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.