श्री बाला जी संघ ने निष्काम भाव से कराया बाला जी का कीर्तन

0
1015

चण्डीगढ़

12 जून 2018

दिव्या आज़ाद 

श्री बाला जी संघ द्वारा आज सेक्टर 22 की मार्किट में पहला बाला जी का कीर्तन कराया गया जिसमें संघ के प्रधान सुप्रसिद्ध भजन गायक कन्हैया मित्तल ने अपनी मंडली सहित स्वयं बाला जी का गुणगान किया। उन्होंने अपने पसंदीदा भजन “दुनिया चले ना श्री राम के बिना-राम जी चले ना हनुमान के बिना” से कार्यक्रम का शुभारम्भ किया तो सारे श्रद्धालुगण भाव-विभोर हो उठे। उसके बाद उन्होंने एक के बाद एक मधुर भजन गाकर समां बाँध दिया। ये कार्यक्रम ठीक उसी प्रकार आयोजित किया गया जिस प्रकार राजस्थान में बाला जी महाराज का कीर्तन किया जाता है। कार्यक्रम के बाद आयोजकों को तुलसी व रुद्राक्ष के पौधे व हनुमान जी की ध्वजा भी भेंट किये गए।
उल्लेखनीय है कि  ट्राइसिटी में श्री बाला जी संघ नामक एक संस्था का गठन किया गया है जो हरेक मंगलवार को रात 7 से 10 बजे तक निष्काम भाव से बालाजी का कीर्तन किया करेगी। संस्था, जिसका कार्यालय सेक्टर 40 सी में खोला गया है, के प्रधान सुप्रसिद्ध भजन गायक कन्हैया मित्तल ने बताया कि संस्था का ध्येय वाक्य हर हर बालाजी-घर घर बाला जी रखा गया है। यह कीर्तन वह स्वयं अपनी मंडली के साथ किया करेंगे व प्रत्येक मंगलवार को वह कोई और कार्यक्रम नहीं करेंगे। उन्होंने बताया कि इस काम का कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा व साउंड आदि का प्रबंध भी उनकी ओर से निशुल्क होगा। कार्यक्रम के बाद वह आयोजकों को तुलसी व रुद्राक्ष के पौधे व हनुमान जी की ध्वजा भी भेंट किया करेंगे। उन्होंने बताया कि अभी से ही छह महीने की बुकिंग हो चुकी है। बुकिंग सुबह 10 से शाम 6 बजे तक व्यक्तिगत तौर पर अथवा फोन नं. 0172-2691975 पर कराई जा सकती है। उन्होंने बताया कि उनकी ओर से इस प्रयास को एक नई सोच के तौर पर लाया गया है। इसका मुख्य कार्य श्री बालाजी महाराज और श्री खाटू श्याम जी का प्रचार है परंतु इसके साथ यह संस्था मानव और समाज कल्याण हेतु भी भरसक प्रयत्न करेगी।
युवा भजन गायक कन्हैया ने कहा कि वह अपने साथ आज की युवा पीढ़ी को जोड़ कर उनके चरित्र व विचारों को एक सही दिशा देना चाहते हैं, क्योंकि हमारी यह सोच है कि यदि हमारा युवा वर्ग सकारात्मक सोच और सद्चरित्र वाला है तो हमारे समाज और देश का भविष्य उज्जवल ही होगा।
उन्होंने बताया कि संस्था की यह सोच है कि समाज कल्याण और निर्माण के कार्य में योगदान देना हर मनुष्य का परम धर्म है। संस्था भी ऐसे सामाजिक कार्यों के लिए वचनबद्ध है जैसे:- कमजोर आर्थिक स्थिति वाले परिवारों के बच्चों की पढ़ाई में मदद, जरूरतमंद परिवारों की कन्याओं की शादी में यथासंभव सहयोग, जरूरतमंद रोगियों की मदद, समय-समय पर लंगर भंडारे का आयोजन करना, शहर में स्वच्छ पर्यावरण का ध्यान रखते हुए पेड़ पौधे लगाना और इस बारे में समाज को जागरूक करना इत्यादि।
आने  वाले समय में संस्था की ओर से खूनदान कैंप, गर्मियों में शीतल जल के लिए कूलर लगवाना, सर्दियों में कंबल वितरण, शहर की साफ सफाई में सहयोग इत्यादि में सहयोग देगी। उन्होंने कहा कि जैसे-तैसे राह मिलती रहेगी वैसे वैसे यह संस्था मानव कल्याण के कार्यों में अग्रसर होती रहेगी।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.