पुलिस द्वारा प्रताड़ना मामला: समाजवादी पार्टी ने डीजीपी सहित पुलिस के आला अधिकारियों से की मुलाकात

0
316

चंडीगढ़

8 मार्च 2019

दिव्या आज़ाद

गुरप्रीत सिंह उर्फ लालू पुत्र सुरेंद्र सिंह मकान नंबर 1452/ 28 सेक्टर 29 बी चंडीगढ़ के साथ चंडीगढ़ पुलिस द्वारा प्रताड़ित करने और झूठे केस में फंसाए जाने के बाद गुरप्रीत सिंह पर पेशाब उड़ेलना और शारीरिक एवं मानसिक तौर पर टॉर्चर किए जाने के कारण उस नाबालिक बच्चे ने आत्महत्या करने का प्रयास किया।चंडीगढ़ पुलिस की इस अमानवीय एवं निंदनीय हरकतों का विरोध पूरे शहर वासियों में देखने को मिला।
पिछले कुछ समय से चंडीगढ़ पुलिस के कुछ कर्मचारियों एवं अधिकारियों के आलोचनापूर्ण कृत्यों के कारण चंडीगढ़ पुलिस की छवि धूमिल हो रही है जिससे शहर के समस्त निवासी भयभीत एवं चिंतित है।
इस विषय को लेकर 8 मार्च को समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  ने अपने एक प्रतिनिधिमंडल के साथ चंडीगढ़ पुलिस के आला अधिकारियों से मुलाकात की जिसमें मुख्य रूप से समाजवादी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्रन चेटियार, महासचिव त्रिलोकी कुमार अंबेडकर एवं नाबालिक बच्चे के माता, बहन एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। चंडीगढ़ पुलिस के डीजीपी, डी आई जी, एस पी ऑपरेशन से मुलाकात करके इस नाबालिक बच्चे व उनके गरीब परिवार को प्रताड़ित करने वाले पुलिस के एएसआई अवतार सिंह एवं स्पेक्टर पूनम दिलावरी के खिलाफ न्यायिक जांच की मांग की एवं गुनाहगारों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करने की मांग की।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.