चण्डीगढ़

10 अगस्त 2017

दिव्या आज़ाद 

शहर की राजनीति में जहां एक तरफ वरिष्ठ कांग्रेस नेता वपूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी सक्रिय हो रहे हैं वहीं कुछ पुरानेकांग्रेसी बगावती तेवर दिखा रहे हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री व स्थानीय सांसदपवन बंसल के खिलाफ कांग्रेसजन अंदरखाते विरोध जता रहे हैं परंतुकांग्रेस नेता राज नागपाल, जो आल इंडिया राजीव मेमोरियलसोसायटी के अध्यक्ष हैं, ने खुलेआम बगावती तेवर अपना लिया है।उन्होंने पवन बंसल के खिलाफ कड़े शब्दों में पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षसोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी है जिसमें चण्डीगढ़ कांग्रेस की दुर्दशाका वर्णन किया गया है। उनके मुताबिक पवन बंसल की छत्रछाया मेंपिछले आठ सालों में कोई भी कार्यकर्ता कांग्रेस में नहीं जोड़ा गया।वह किसी भी आम आदमी तो क्या बल्कि पार्टी कार्यकर्ता से भीमिलना पसंद नहीं करते। नागपाल के मुताबिक कोई गरीब व्यक्ति वकार्यकर्ता उनके निवास पर मिल लें तो उसका काम करवाना तो दूरउसकी बेइज्जती तक कर देते हैं। वह किसी का फोन भी नहीं उठाते।पवन बंसल की वजह से ही आज चण्डीगढ़ कांग्रेस मुक्त हो गया हैक्योंकि आज सांसद से लेकर कारपोरेशन, जिला परिषद व पंचायततक सभी भाजपाई हैं।

पिछले कई सालों में जनाधारविहीन नेता बंसल ने न कोई बड़ी रैलीकी और न हीं विरोध प्रदर्शन व धरना किया बल्कि कभी कभी घरबैठे-बैठे प्रेसनोट जरूर जारी कर देते हैं। नागपाल ने यह भी लिखा हैकि आजकल सेक्टर 35 स्थित राजीव गांधी कांग्रेस भवन में कोईनहीं जाता क्योंकि न तो स्थानीय प्रधान और न ही कोई पदाधिकारीवहां मिलते हैं। पहले गरीब लोग अपना काम कराने यहां आते थे वमाहौल मेले जैसा प्रतीत होता था परंतु अब बिल्कुल उजाड़ व विरानहो गया है। हजारों पुराने कार्यकर्ताओं व मेरे जैसे छोटे बड़े कईनेताओं को पवन बंसल ने कांग्रेस से बाहर कर दिया है व खुद सर्वेसर्वाबने बैठे हैं। इस समय चण्डीगढ़ कांग्रेस बहुत बुरे दौर से गुजर रही है।अब भी समय है कि स्थानीय संगठन में अमूलचूक बदलाव कियाजाए व पार्टी को फिर से खड़ा किया जाए नहीं तो चण्डीगढ़ के कोईकांग्रेस का नामलेवा भी नहीं बचेगा।

इस पत्र में राज नागपाल ने अपना पूरा परिचय देते हुए बताया है किवह पिछले 40 सालों से चंडीगढ़ कांग्रेस से जुड़े हुए हैं। उन्होंने बतायाकि वर्ष 1991 में वह चंडीगढ़ कांग्रेंस में संगठन सचिव थे व 1992 मेंविनोद शर्मा ने उन्हें संयुक्त सचिव बनाया तत्पश्चात वर्ष 95 में पवनबंसल ने सचिव का पद की जिम्मेवारी दी बल्कि 99 में कुलभूषणगुप्ता ने वरिष्ठ सचिव का पद सौंपा तथा वर्ष 2004 में बीबी बहल नेचंडीगढ़ कांग्रेस के शहरी विकास प्रकोष्ठ का अध्यक्ष बनाया। इसकेअलावा वर्ष 92 में कांग्रेस के तिरूपति में हुए प्लैनेरी सेशन में तथा वर्ष 93 में जगदीश पुर, उत्तर प्रदेश में राजीव गांधी पंचायती राज एवंनगर पालिका कान्वेंशन में शामिल हुए थे। इसके अलावा नई दिल्लीस्थित तालकटोरा स्टेडियम में वर्ष 1994 में हुए कांग्रेस अधिवेशन मेंस्पेशन इनवायटी के तौर पर उन्हें आमंत्रित किया गया था। वर्ष 97 मेंकलकत्ता मे ंआयोजित 80 में प्लेनरी सेशन तथा वर्ष 2004 मेंतालकटोरा स्टेडियम में आल इंडिया सेशन में भी शामिल हुए। वर्ष2005 में चंडीगढ़ कांग्रेस के डेलीगेट के तौर पर नवसारी, गुजरात मेंडांडी यात्रा में भी शिरकत कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.