चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस द्वारा शहर की जनता को परेशान करने के लिए ऑनलाइन चालान मुहीम की शुरुआत क़ी गई है ताकि पुलिस कर्मचारियों की आमदन में इजाफा हो सके: विवेक हंस गरचा

0
699

चंडीगढ़

29 दिसंबर 2021

दिव्या आज़ाद


न्यू कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) अध्यक्ष विवेक हंस गरचा ने देश के अलग – अलग राज्यों में पुलिस की दयनीय स्थिति पर चिंता व्यक्त की विवेक हंस गरचा ने कहा कि पुलिस विभाग जनता का एक भरोसेमंद सुरक्षा दल है जिसकी देख – रेख में नागरिक अपने आपको सुरक्षा के मामले में सुरक्षित महसूस करता हुआ अपने आज़ादी के मौलिक अधिकार का आंनद मान सकता है परन्तु कुछ गैर – ज़िम्मेदार पुलिस कर्मचारी गैर – कानूनी कार्य करके पूरे पुलिस विभाग का मनोबल गिरा रहे हैं और साथ ही देश के नागरिकों का पुलिस विभाग से विश्वास खत्म हो रहा है और पुलिस की खाकी पर प्रश्न चिन्ह लगा रहे हैं लोग छोटी सी वारदात पर क्रोधित हो जाते हैं और पुलिस के सामने मुकाबले के लिए खड़े हो उठते हैं जिसका कारण लोगों का पुलिस पर से उठता हुआ भरोसा है  आज पुलिस सबसे जायदा कठोर, भ्रस्ट, अत्याचारी, अविश्वासनीय, घमंडी, दुर्व्यवहारी हो गई हैं जिसका परिणाम एक आम नागरिक और गुंडानुमाई लोग खाकी के गिरेबान पर हाथ डालने में संकोच नहीं करते | ये कारण पुलिस का गिरता हुआ चरित्र है क्या पुलिस अपनी छवि सुधारने का प्रयतन करेगी |
क्योंकि ऐसा ही कुछ चंडीगढ़ सैक्टर – 1 से 11 व 17 से 24, 32 से 36, इंडस्ट्रियल एरिया फेज 1 व 2 में भी हो रहा है जहां चंडीगढ़ प्रशासन शहर के विकास के कई बड़े दावे करता हैं वे खोखले साबित हुए हैं टूटी सड़कें, पार्किंग सिस्टम प्रॉपर ना होने के कारण शहर वासियों को गाड़ी खड़ी करने को जगह नहीं मिलती जिसका नाजायज फायदा उठाकर चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस कर्मचारियों द्वारा शहर के भोले – भाले लोगों को चालान के नाम पर डराया जाता है जिस कारण डर के कारण कुछ लोग पुलिस कर्मचारियों की जेब गर्म करने को मजबूर हो जाते हैं जो जेब गर्म नहीं कर पाते उन कुछ लोगों के घरों व मार्किट रोड पर भी खड़ी गाड़ी का चालान कर दिया जाता है सरकारें जनता को अलग – अलग रूप के टैक्स लगाकर लूट रही है और चंडीगढ़ पुलिस मास्क व अलग – अलग प्रकार के गाड़ियों के चलान के नाम पर गोरख धंधा कर रही है विवेक हंस गरचा ने कहा कि चंडीगढ़ प्रशासनिक अधिकारीयों व पुलिस अधिकारीयों को मिलकर शहर के पार्किंग ठेकेदारों को डायरेक्शन देकर पार्किंग सिस्टम को ठीक करवाना चाहिए क्योंकि पार्किंग सिस्टम ठीक होगा तो लोग रोड्स पर गाड़ी खड़ी नहीं करेंगे | विवेक हंस गरचा ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारीयों को पार्किंग सिस्टम प्रॉपर ना होने पर ठेकेदारों का ठेका रद् करना चाहिए क्योंकि ठेकेदार पार्किंग फीस पर भी अब घंटे के हिसाब से पैसा लेते हैं | विवेक हंस गरचा ने चंडीगढ़ सीनियर  सुप्रीटेंडेंट  ऑफ़  पुलिस , सिक्योरिटी एंड  ट्रैफिक , यू.टी  चंडीगढ़  से आज तक के किये गये ऑन रोड पार्किंग चलानों को रद् करने की मांग की उन्होंने कहा पहले अपना सिस्टम ठीक हो उसके बाद लोग रूल फॉलो करेंगे |
इसके साथ ही विवेक हंस गरचा ने देश के नागरिकों से भी अपील की है कि पुलिस सुरक्षा बल के कारण ही हम अपने घरों में सुरक्षित व चैन से सो पाते हैं | हमें पुलिस कर्मचारियों का सम्मान करना चाहिए, क्योंकि वे अपनी ज़िन्दगी दांव पर लगाकर अपने परिवारों की परवाह किये बिना हमारी दिन – रात हर प्रकार की सहायता में 24 घंटे जुटे रहते हैं | अगर कहीं कोई अत्याचार, डकैती, गुंडागर्दी, बलात्कार होता है उसमें पुलिस विभाग का क्या दोष होता है जोकि लोग तुरंत भड़क कर पुलिस विभाग हाय-हाय करते हुए पुलिस से उलझ पड़ते हैं | आखिर पुलिस कर्मचारी भी तो हम में से एक हैं | वे भी हमारे देश – परिवार के सदस्य हैं | हमें भी उनके पूर्ण सहायक बनने की आवश्यकता है |

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.