जब सती सावित्री ही बन गई पति के लिए काल

0
1843

मोहाली।

19 मार्च 2017

वर्ल्ड विस्डम न्यूज़ नेटवर्क

मोहाली के पॉश इलाके 3 बी 1 मैं आज उस समय सनसनी फैल गई जब कोठी नंबर 116 में रहने वाले एकम सिंह ढिल्लों नामक नौजवान का मर्डर हो गया, उसके सिर पर 9 MM पिस्टल की गोली लगी हुई थी । एकम की लाश उसकी BMW गाड़ी में एक अटैची केस में बंद मिली। जमीन और कार में से खून के कतरे गिरने पर पड़ोसी ने इसे नोटिस किया और इसकी सूचना पुलिस को दी। एकम सिंह ढिल्लों की पत्नी मौके से नदारद है और उनके दो छोटे बच्चे घर पर अकेले मौजूद थे। पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और गाड़ी भी टोचन डाल कर मटौर पुलिस स्टेशन भेज दी गई है। पुलिस को घर से 9 का पिस्टल भी बरामद हुआ है।

मौके पर मौजूद थाना मटौर के प्रभारी बलजिंदर पन्नू ने बताया कि उन्हें सूचना मिली के BMW गाड़ी से खून के कतरे बह रहे हैं जब उन्होंने आकर वहां देखा तो अटैची केस में एक लाश पड़ी हुई थी जिसकी शिनाखत एकम सिंह ढिल्लों (आयु 39 वर्ष) के रूप में हुई जोकि स्टोन क्रेशर और बिल्डर का काम करते है । उसकी हत्या कैसे हुई यह पोस्टमार्टम के बाद ही पता चलेगा। उनकी पत्नी घर से गायब है जबकि दोनों छोटे बच्चे घर पर ही हैं। पुलिस अभी मामले की बारीकी से छानबीन कर रही है और सारी तफ्तीश के बाद ही इसके बारे में कुछ कहा जा सकता है। थाना मटौर के प्रभारी बलजिंदर पन्नू ने बताया की इस मामले को लेकर तीन वियक्तियो सीरत ढिल्लों समेत उसके भाई विनय प्रताप सिंह बराड़ , सीरत की माँ जसविंदर कौर और एक और अज्ञात के खिलाफ कतल करने की धारा 302, सबूत मिटाने की धारा 201 और असला एक्ट 25-54-59 और साज़िश की धारा 34 IPC के अंतरगत मामला दर्ज कर छापेमारी की जा रही है जिसके लिए 3 टीमो का गठन भी किया गया है

मृतक के छोटे भाई जसपाल सिंह जो के अलग घर में रहते हैं ने बताया कि उनके भाई एकम के बिलकुल सामने वाले घर में रहने वाले एक जानकार ने उन्हें सूचना दी के उनके भाई की घर के आगे खड़ी BMW गाड़ी में से एक सूटकेस बैग में बंद लाश मिली है और पुलिस मौके पर है। जसपाल सिंह ने बताया कि थोड़ी देर में ही वह भी अपने रिश्तेदारों के साथ वहां मौके पर पहुंच गए और जब पुलिस ने बैग खोल कर देखा तो लाश उनके भाई एकम की ही निकली। पुलिस ने अलमारी से रिवाल्वर भी बरामद की है और बाथरुम से खून के धब्बे मिटाए जाने के भी सबूत मिले हैं । जसपाल सिंह ने कहा कि मेरे भाई का कत्ल किया यदि मेरे भाई ने खुद आत्महत्या की होती तो उनकी लाश बैग में कैसे जाती। यह काम उनकी पत्नी सीरत का ही है क्योंकि उनका आपस में झगड़ा रहता था और सीरत हाई प्रोफाइल फैमिली से होने के कारण काफी महत्वकांक्षी थी। मेरे भाई के साथ इसी बात को लेकर उसका झगड़ा रहता था कि वह किसी छोटे-मोटे मकान में नहीं रह सकती थी। अभी यह लोग 15 दिन पहले ही चंडीगढ़ के सेक्टर 35 के एक घर से शिफ्ट होकर यहां आए थे। अब हमें यह आशंका है कि कांग्रेस के सीनियर लीडर और MLA रहे अजीत इंदर सिंह moafer की सीरत भांजी है और इस मामले को दबाने की पूरी कोशिश की जाएगी । उनके दोनों छोटे-छोटे बच्चों ने बताया है के उनकी मासी और दूसरे रिश्तेदार आ कर उनकी मम्मी को साथ ले गए हैं। यह तो संभव ही नहीं है कि 6 फुट 3 इंच लंबे कद वाले हट्टे कट्टे 39 साल के युवक एकम सिंह को अकेली औरत सीरत ने मारकर अटैची केस में बंद करके सीढ़ियों से फर्स्ट फ्लोर से लेकर ग्राउंड फ्लोर तक अकेले ले आई हो । उन्होंने आशंका जताई की इसमें कम से कम 3 से 4 वियक्तियो का हाथ है ।

घटना स्थल पर मौजूद मृतक एकम सिंह की बुआ ने सीधे-सीधे एकम सिंह की पत्नी सीरत पर उसके कत्ल का इल्जाम लगाया है और कहा है कि वह शराब पीती थी और बिना किसी राजनीतिक शह के वह कत्ल नहीं कर सकती। उन्होंने इस वारदात के पीछे सीरत के मामा अजीत इंदर सिंह मोफर जो की कांग्रेस के मुकरसर साहिब हलके से पूर्व विधायक है का हाथ होना बताया ।

मौके पर मौजूद डीएसपी विजय आलम ने बताया कि उन्हें सूचना मिली के BMW गाड़ी से खून के कतरे बह रहे हैं जब उन्होंने आकर वहां देखा तो अटैची केस में एक लाश पड़ी हुई थी जिसकी शिनाखत एकम सिंह करेश्वर और बिल्डर का काम करने वाले एकम सिंह के रूप में हुई। उसकी हत्या कैसे हुई यह पोस्टमार्टम के बाद ही पता चलेगा। उनकी पत्नी घर से गायब है जबकि दोनों छोटे बच्चे घर पर ही हैं। पुलिस अभी मामले की बारीकी से छानबीन कर रही है और सारी तफ्तीश के बाद ही इसके बारे में कुछ कहा जा सकता है। पुलिस ने तीन वियक्तयो मृतक की पत्नी सीरत ढिल्लो, उसके सीरत के भाई विनय प्रताप बराड़ व् सीरत की माता जसविंदर कौर बराड़ के खिलाफ धारा 302, 201 व हथियार रखने के जुर्म 25/54/59 के अंतर गत मामला दर्ज कर आरोपियों की भाल शुरू कर छापेमारी की जा रही है

सूत्रों के मुताबिक एकम और सीरत की शादी हुए 12 साल बीत चुके थे और उनके 2 बच्चे एक बेटा और बेटी है जिनकी जिंदगी अब अँधेरे में डूब गई है और यहाँ एक तरफ बचपन में ही सिर से बाप का साया उठ गया दूसरी माँ अब जेल में रहेगी । कारण कुछ भी रहा हो पर दो मासूम बच्चों की जिंदगी खराब हो गई है जिनका बाप इस दुनिया में नहीं रहा और उनकी मां को पुलिस तलाश कर रही है और वह भी जरूरत से ज्यादा महत्वकांशी होने के कारण।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.