सामाजिक संगठन ‘खटीक सेना’ के महाराष्ट्र प्रदेश कार्यालय का उद्धघाटन रविवार को मुंबई में सम्पन्न हुआ

0
629

मुंबई

9 जनवरी 2018

दिव्या आज़ाद

खटीक समाज के हितों की रक्षा लिए सामाजिक संगठन ‘खटीक सेना’ बनी है।जोकि आंबेडकर के मिशन को आगे बढ़ा रही है तथा दलित, आदिवासी और पिछड़ों की हक़ की लड़ाई लड़ रहे है।’खटीक सेना’संरक्षक और उत्तर पश्चिम दिल्ली के संसद डॉ. उदित राज, राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय राज खटीक,राष्ट्रीय महासचिव इंद्रेश चंद्र खटीक,राष्ट्रीय संगठन मंत्री राजकुमार खटीक इत्यादि ने मिलकर सामजिक कार्यकर्ता किरण तितौरिया को ‘खटीक सेना’ के’महाराष्ट्र प्रदेश प्रभारी’ पद पर नियुक्त किया है।रविवार ७ जनवरी २०१८ को दोपहर में ५,आनंद एन्क्लेव,इंद्रलोक पेस ६, आर बी के ग्लोबल स्कूल के सामने,भायंदर ( ईस्ट), थाणे  में संस्था के महाराष्ट्र प्रदेश कार्यालय का उद्धघाटन बड़े भव्य तरीके से दिल्ली से आये संस्था के राष्ट्रीय महासचिव तथा नॉर्थेर्न रेलवे के सदस्य इंद्रेश चंद्र खटीक द्वारा किया गया। ‘महाराष्ट्र प्रदेश प्रभारी’ किरण तितौरिया खटीक द्वारा मनोनीत किये गए संस्था के मुंबई प्रदेश अध्यक्ष हर्षद खटीक,महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्र सोनकर खटीक तथा अन्य पदाधिकारियों को इंद्रेश द्वारा संस्था प्रमाणपत्र व पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर इंद्रेश चंद्र खटीक ने कहा, “बारह राज्यों में खटीक समाज के लोगों को अनुसूचित जाति में रक्खा गया है। हम चाहते है कि देश के हर राज्य में खटीक समाज को अनुसूचित जाति में रक्खा जाए। जिससे इस समाज के लोग भी आगे आये और तरक्की करे। हमलोग दिल्ली में एक हब बना रहे है। जिसमे खटीक समाज के युवाओं को मुफ्त में सिविल सर्विसेस व अन्य चीजों की शिक्षा और ट्रेनिंग दी जायेगी। जिससे वे समाज में आगे बड़े और समाज का नाम रोशन करे।”

‘महाराष्ट्र प्रदेश प्रभारी’ किरण तितौरिया खटीक ने इंद्रेश को मुंबई आने के लिए और संस्था के लोगों को सलाह और जानकारी देने के लिए व लोगों का हौसला बढ़ाने के लिए धन्यवाद दिया।इस अवसर पर संस्था के राष्ट्रीय महासचिव तथा नॉर्थेर्न रेलवे के सदस्य इंद्रेश चंद्र खटीक’,महाराष्ट्र प्रदेश प्रभारी’ किरण तितौरिया खटीक,मुंबई प्रदेश अध्यक्ष हर्षद खटीक,महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्र सोनकर खटीक के अलावा सुशांत पवार, मिथलेश कुमार खटीक,श्याम लाल,सुभाषा चंद खटीक,आर डी सोनकर,एस जी पाटिल,सूरज गजानन इंगोले इत्यादि लोगों ने कार्यक्रम में शामिल होकर कार्यक्रम की शोभा बढाई।

 

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.