अंतरराष्ट्रीय गुज्जर गौरव यात्रा पाकिस्तान के रास्ते से अफगानिस्तान के गजनी तक जाएगी

0
180

चंडीगढ़

22 नवंबर 2018

दिव्या आज़ाद

गुज्जर नरेश सरदार पटेल के जन्म दिवस पर गुज्जर समाज द्वारा उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के दुआरहाट से अंतर्राष्ट्रीय गुज्जर गौरव यात्रा शुरू की गयी है,  यह यात्रा विभिन विभिन प्रांतों से होती हुई पाकिस्तान के रास्ते से अफगानिस्तान के गजनी तक जाएगी जहां गुज्जर समाज के अंतिम सम्राट पृथ्वीराज चौहान की समाधि बनी है पर श्रद्धांजलि दी जाएगी। ये जानकारी अंतरराष्ट्रीय गुज्जर गौरव यात्रा के संयोजक और अखंड भारत गुज्जर महा सभा के राष्ट्री अध्यक्ष कर्नल डी.एस.गुज्जर ने दी।

चंडीगढ़ प्रेस क्लब में पत्रकारों से बात करते हुए अंतरराष्ट्रीय गुज्जर गौरव यात्रा के संयोजक और अखंड भारत गुज्जर महा सभा के राष्ट्री अध्यक्ष कर्नल डी.एस.गुज्जर , हिमाचल के प्रदेश अध्यक्ष प्रकाश राओ , उतर प्रदेश के संयोजक सोहन लाल गुज्जर और हरियाणा के संयोजक विजय पाल ने पत्रकारों को बताया कि 31 अक्टूबर 2018 से गुज्जर समाज द्वारा उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के दुआरहाट में गुज्जर देव मंदिर से गुज्जर नरेश सरदार पटेल के जन्म दिन को शुरू हुई है। इस यात्रा में हजारों की संख्या में गुज्जर समाज के लोग भाग ले रहे हैं और जगह जगह गुजर समुदाय के लोग इस यात्रा का स्वागत कर रहे है ।  उन्होंने कहा कि इस समय में राज्यों के गुज्जर समुदाय के लोगों से सरकार का व्यवहार ठीक नहीं है। उन्होंने मांग की कि पृथ्वीराज चौहान के जन्म स्थान साकमबरी (अजमेर) राजस्थान में एक स्मारक बनाकर गुज्जर समुदाय की भावनाओं का सम्मान करने इसके साथ ही राष्ट्रीय गुज्जर विकास आयोग बनाने का अनुरोध को स्वीकार करे। उन्होंने कहा कि भर्ती फौज में गुज्जर समाज की रेजिमेंट और स्काउट की स्थापना होनी चाहिए हे क्योंकि करीब हर जाति की फौज में रेजिमेंट है।

उन्होंने पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश सरकारों से अनुरोध किया कि गुज्जर समाज के महान योद्धा ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी की याद में स्मारक बनाई जाए। ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी के बारे में स्कूल और कॉलेज की किताबों में एक अध्याय लिखें।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.