राज्यपाल  ने  पुस्तक ‘हौसलों के शिखर’ का लोकार्पण किया

0
1161

 

चण्डीगढ
17 मार्च 2017
दिव्या आज़ाद
हरियाणा के राज्यपाल प्रो0 कप्तान सिंह सोलंकी ने आज माउंट एवरेस्ट विजेता पदमश्री ममता सौधा के जीवन पर लिखी गई पुस्तक ‘हौसलों के शिखर’ का लोकार्पण किया। वरिष्ठ पत्रकार व लेखक ओमकार चैधरी द्वारा लिखी गई इस पुस्तक के लोकार्पण समारोह का आयोजन हरियाणा राजभवन में किया गया। पुस्तक में ममता सौदा की साहसिक जीवन-यात्रा का रोमांचित करने वाला वर्णन किया गया है।
इस अवसर पर बोलते हुए राज्यपाल ने कहा कि यह पुस्तक हर पाठक, विशेषकर बेटियों को जीवन में कुछ बड़ा करने व बड़ा बनने की प्रेरणा देगी। उन्होंने कहा कि ममता सौधा ने आर्थिक तंगी, घरेलू व सामाजिक विषम परिस्थितियों बावजूद जो कर दिखाया है उसे पढकर हर किसी को लगेगा कि वह भी कुछ कर सकता है। उन्होंने ममता सौधा की इस साहसिक यात्रा में मदद करने वालों की भी सराहना करते हुए कहा कि जो लोग समर्थ हैं, समाज ने जिनको दिया है उनका कत्र्तव्य है कि वे प्रतिभाशाली युवाओं को आगे बढने में मदद करें।
राज्यपाल ने कहा कि जीवन में सफलता के लिए हौसला, दृढ संकल्प, अनुशासन, कर्मठता और कत्र्तव्यपरायणता की जरूरत होती है। ममता सौधा जैसे जो युवा इन गुणों से भरपूर हैं वे एवरेस्ट जैसी उंचाईयां जरूर प्राप्त करते हैं। उन्होंने इस पुस्तक के लिए लेखक ओमकार चैधरी और ममता सौधा को बधाई दी।
इससे पहले अतिरिक्त मुख्य सचिव, चिकित्सा शिक्षा धनपत सिंह ने कहा कि ममता सौधा ने छोटी आयु में ही एवरेस्ट जितने उंचे मनोबल के द्वारा बड़ी उपलब्धियां हासिल की हैं। इसलिए उनकी सफलता की कहानी के रूप में यह पुस्तक युवा पीढी का मार्गदर्शन करेगी।
पुस्तक के लेखन के लिए लेखक का धन्यवाद करते हुए ममता सौधा ने कहा कि इसमें मेरे जीवन का इतना सजीव चित्रण किया गया है कि पुस्तक पढते हुए मुझे लगा जैसे कि मैं फिर से एवरेस्ट पर चढ रही हूं। उन्होंने कहा कि इस पुस्तक उद्देश्य महिलाओं को प्रेरित करना और उनके प्रति समाज की सोच को बदलना है।
समारोह में वरिष्ठ पत्रकार व साहित्यकार डाॅ0 चन्द्र त्रिखा ने भी अपने विचार रखे। ममता सौधा की बहन रजनी सौधा ने सबका धन्यवाद किया।
इस अवसर पर वरिष्ठ आई0 ए0 एस0 अधिकारी केशनी आनन्द अरोड़ा, रामनिवास, आलोक निगम, आर0आर0 जोवल, डाॅ0 सुमिता मिश्रा, ए0के0 सिंह, राज्यपाल के सचिव डाॅ0 अमित कुमार अग्रवाल, राजाशेखर गुंडरू, अवनीत पी0 कुमार सहित अनेक प्रशासनिक व पुलिस के अधिकारी, अनेक साहित्यकार व गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.