जी एन हाली हार्ट पब्लिक स्मार्ट स्कूल द्वारा एंटी क्रैकर रैली का आयोजन

0
597

चंडीगढ़

17 अक्टूबर 2017

दिव्या आज़ाद

जी एन हाली हार्ट पब्लिक स्मार्ट स्कूल, मौलीजागरां ने आज एंटी क्रैकर रैली का आयोजन किया। जिसे मौलीजागरां के थानाध्यक्ष बलदेव सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। जिसमे स्कूल के बच्चो ने तरह तरह के स्लोगन के बोर्ड बनाकर लोगो को जागरूक किया  यह रैली मौलीजागरां पिंड व् आस पास की कॉलोनी मे गई और लोगो से पटाखे न जलाने और प्रदूषण न फैलाने का आग्रह करती साथ ही अपने आस पास न साफ सफाई रखने का भी अनुरोध कर रही थी। इस रैली मे स्कूल के अध्यापको ने भी अपना योगदान दिया स्कूल की प्रधनाचार्य जसविंदर कौर ने बताया की उनके स्कूल ने बच्चो के सहयोग से एक विरोधी क्रैकर अभियान आयोजित किया है क्योकि बच्चे पटाखों के सबसे बड़े उपभोक्ता हैं और उनके स्वास्थ्य और पर्यावरण के प्रभाव के बाद उन्हें इसके हानिकारक तथ्यों से शिक्षित करने के लिए उच्च समय है। यह रैली स्कूल परिसर से शुरू हुई। बच्चो ने जलती हुई पटाखों के खराब प्रभावों से लोगो को शिक्षित किया और दिवाली को मोमबत्ती, मिठाई और बाजार में उपलब्ध गैर-प्रदूषणकारी हरी पटाखे के साथ मनाने का विचार और आग्रह किया। छात्रों ने संदेशों को ले जाने वाले प्लैकार्ड जैसे फायर फटकार नहीं करते, अपने अहंकार को फटकारा, अपने नकारात्मकता को पटाखे न करें, मैं अस्थमा रोगी हूं, जिससे मुझे साँस लेने में मदद मिलती है। एक हरे, स्वच्छ, सुरक्षित माहौल में त्योहार मनाएं और आनंद, प्रेम और खुशी की भावना से भरा माहौल बनाने और निराशा, दुर्घटना, स्वास्थ्य समस्याओं और पर्यावरण की गिरावट की रात नहीं है। आदि स्लोगन से जनहित को सन्देश देने की कोसिस की।

थानाध्यक्ष बलदेव सिंह ने बताया की दिवाली का सन्दर्भ खुशियां बाटना है आज जी.एन हौली हार्ट स्कूल के बच्चो और स्कूल प्रबंधन की पहल आम जान को अच्छा सन्देश देगी और लोग भी इससे प्रेरणा मिलेगी।

हरभजन सिंह पूर्व जिला परिषद् ने छात्रों को उत्साहित करते हुए कहा कि क्रैकर्स से न केवल बचना चाहिए बल्कि प्रतिबंधित भी होना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों से इस संदेश को न केवल उनके परिवारों, बल्कि उनके पड़ोस और आस-पास के उपनिवेशों में भी लाने का आग्रह किया ताकि यह कदम स्वास्थ्य के लिए पटाखों के हानिकारक प्रभावों के चलते एक आंदोलन का आकार लेगा। इस मोके पर भारत विकास परिषद् के प्रधान विजय गर्ग भी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.