शिक्षा विभाग के खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस कर किया रोष व्यक्त

0
770
चंडीगढ़
1 मार्च 2017
दिव्या आज़ाद
जिला पठानकोट के हल्का भोआ में आते सरकारी हाई स्कूल बसाउ बाडवां में पीयन कम चौंकीदार के तौर पर कार्यरत पंकज कुमार ने चंडीगढ़ प्रेस क्लब में अपने परिवार और विधान सभा हल्का भोआ से आजाद उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे डा विनोद कुमार सहित जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कुमार, कलर्क राज दीपक और कलर्क अरुण कुमार महाजन पर कार्यालय का दरवाजा बंद कर गाली गलोच करने, कूटने और धमकियां देने का आरोप लगाया। अपने साथ घटी घटना के बारे में बताते हुए पंकज ने बताया कि वे सरकारी हाई स्कूल बसाउ बाडवां में लगभग 7 माह से तैनात हैं और उन पर किसी तरह की कोई गलती व अवहेलना का आरोप नहीं है।
उन्होंने मीडिया कर्मियों को जानकारी देते हुए बतया कि उक्त अधिकारी अपने पद का दुरोपयोग करते हैं और उसे जुलाई 2016 से ही तंग करते आ रहे हैं। जतिन्द्र कौर, जो सरकारी सीनियर सैकेंडरी स्कूल दौलतपुर में प्रिंसीपल के पद पर तैनात हैं, से मैंने उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए आज्ञा मांगी थी, परंतु जतिन्द्र कौर ने उनकी प्रति बेनती फाड़ दी और कहा कि उसे कोई प्रमिशन नहीं दी जाएगी, जब मैंने लिखित कापी मांगी तो प्रिंसीपल की शह पर स्कूल में तैनान मैथ अध्यापक रमन कुमार ने मेरे साथ गाली गलोच किया और धमकी दी। पंकज ने बताया कि उसने इसकी शिकायत प्रिंसीपल, डीपीआई, शिक्षा सचिव को दी और जब 15 दिन बाद भी कोई कारवाई नहीं हुई तो मैंने सूचना के अधिकार तहत अपनी प्रति बेनती पर होने वाली कारवाई की सूचना मांगी परंतु किसी ने भी कोई परवाह नहीं की।
पंकज ने बताया कि स्टाफ ने मिलकर डीओ राजेश कुमार को उसके खिलाफ भडक़ाया जिस कारण राजेश कुमार ने बिना किसी जांच पड़ताल के उसकी बदली स्कूल से पचास किलोमीटर दूर बार्डर पर स्थित सरकारी हाई स्कूल बसाउ बाडवंा में कर दी। दो दिन बाद पंकज की माता और भाई जिला शिक्षा अधिकारी के पास पहुंचे और पूछा कि जिस शिकायत पर पंकज की बदली की गई है उसकी कापी हमें दी जाए परंतु जिला शिक्षा अधिकारी की शह पर कलर्क राजदीपक और कलर्क अरुण कुमार महाजन ने उन्हें धक्के मारे और धमकियां दी और उन्हें पंकज को अंदर कराने की धमकी भी दी। पंकज ने बताया कि जिला शिक्षा अधिकारी ने 21-2-2017 को उन्हें अपने कार्यालय में बुलाया और जब वह कार्यालय पहुंचा तो उक्त अधिकारी ने दरवाजा बंद कर उसके साथ मारपीट की, गाली गलोच किया और धमकी दी, पंकज ने बताया कि
इसकी रिर्काडिंग मेरे पास है। पंकज ने इसकी शिकायत एसएसपी, डिप्टी कमिश्नर और शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों को दी। पंकज ने शिकायत में कहा कि उक्त अधिकारी अपने पद का दुरोपयोग कर रहे हैं और उसे 21-2-2017 को
बिना किसी गलती और अवहेलना के सस्पेंड कर दिया।
इस अवसर पर उपस्थित विधान सभा हल्का भोआ से आजाद उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे डा विनोद कुमार ने आरोप लगाया कि डीओ राजेश कुमार, विधायक सीमा कुमारी का रिश्तेदार है और जिले में सभी प्रिंसीपलों से जुनियर है। सीमा कुमारी का रिश्तेदार होने के चलते उसे डीओ लगाया गया है। उन्होंने बताया कि इस अधिकारी के खिलाफ पहले भी पंजाब चुनाव कमिश्न को शिकायत की गई है। उन्होंने कहा कि खुद मैंने भी इन पर एतराज किया था और डिप्टी कमिश्नर अमित कुमार ने उक्त अधिकारी को पूरी तरह शैल्टर किया गया और कोई कारवाई नहीं होने दी गई। उन्होंने मांग की कि उक्त अधिकारियों के खिलाफ कारवाई की जाए, अगर ऐसा नहीं किया गया तो वे पूरे 20 दिन बाद पठानकोट में
डीसी कार्यालय के समक्ष धरना देंगे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.